भारत में ऑनलाइन गेमिंग कंपनी कैसे शुरू करें

भारत में ऑनलाइन गेमिंग कंपनी शुरू करने के लिए क्या करें और कैसे शुरू करें। 

भारत में ऑनलाइन गेमिंग कंपनी कैसे शुरू करें

आज घर बैठे काफी सारी चीज़े की जाती है घर बैठे कोई भी बिजनेस स्टार्ट करना काफी आसान हो चुका है। जहाँ एक तरह हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहे हैं। वहीं इंटरनेट उपयोगकर्ताओं में वृद्धि और उच्च गति इंटरनेट डेटा की तकनीकी सुधार उपलब्धता और उपयोगकर्ताओं की बढ़ती रुचि के कारण गेमिंग उद्योग दुनिया भर में तेजी ला कर रख दी हैं। गेम खेलने से लोग काफी पैसा कमाते है।  जितने ज्यादा लोग गेम खेलने की ओर आकर्षित होते हैं उतना ही अगर आप इस जगह कुछ करना चाहते हैं तो बहुत कुछ कमा सकते हैं। वर्तमान समय में ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय एक बहुत ही लाभदायक व्यवसाय अवसर है। 

ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय करना काफी लाभदायक हो सकता हैं क्योंकि इसके लिए काफी लोग आगे आ रहे हैं। बड़े ज़ोरो सोरो से यहाँ पर  विकास हो रहा है और गेमिंग में काफी पैसा कमाया जा सकता है। क्योंकि आज लोग आराम से गेम खेलाना और देखना पसंद करते हैं ऐसा इसलिए क्योंकि रियल मनी गेम काफी सारे हैं ज्यादा से ज्यादा लोग इसकी ओर आकर्षित होते जा रहे हैं इसलिए ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय शुरू करने से आप बहुत कुछ कमा सकते हैं अगर आप ऐसा करना चाहते हैं तो चलिए आपको बताते हैं। 

ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय शुरू करें 

ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय शुरू करने के लिए पहली बात यह है कि आपके पास एक उत्पाद होना चाहिए इसका अर्थ यह है कि आपके पास उत्पाद में आपका गेम होना चाहिए यानी की एक विशेष गेम जिसे आप जनता के लिए पेश कर रहे हैं, हर व्यवसाय के लिए एक अच्छा उत्पाद आवश्यक है, क्योंकि एक अच्छे ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय के लिए आपको आवश्यकता होती है एक अच्छा करने के लिए ताकि लोगों की रुचि हो और गेमिंग पर काफी समय व्यतीत करना होगा। उसके बाद ही आप इसके लिए आगे जा सकते हैं। 

 बता दें कि गेम डेवलपमेंट के विचार के लिए आपको गेमिंग के हर पहलू के बारे में सोचने की आवश्यकता है जो आपके टार्गेट ओडियनस् होंगे, विशेष गेम के लिए गेमिंग प्लेटफॉर्म जिस पर गेम को आगे बढ़ाया जाएगा। गेम के मार्केटिंग में कितनी लागत शामिल होगी अपेक्षित राजस्व जो व्यवसाय में यह खेल उत्पन्न कर सकता है। अच्छी बात यह है कि आप इन सभी गणनाओं की एक शीट बना सकते हैं। तो आपको इसके लिए कुछ स्टेप्स को ध्यान में रखना होगा जो आपको करने होंगे। 

ऑनलाइन गेमिंग कंपनी पंजीकरण की प्रक्रिया

भारत में कई व्यवसाय संरचनाएं उपलब्ध हैं जिनके तहत आप व्यवसाय शुरू कर सकते हैं, निम्नलिखित व्यवसाय संरचनाएं हैं जिनके तहत आप अपनी ऑनलाइन गेमिंग कंपनी को पंजीकृत कर सकते हैं

  • Proprietorship Firm
  • Partnership Firm
  • Private Limited Company
  • Public Limited Company
  • Limited Liability Partnership (LLP)

आप या तो भारत में उपरोक्त में से कोई भी व्यवसाय संरचना को चुन सकते हैं आपको यहाँ पर निजी लिमिटेड कंपनी और एलएलपी के बारे में एक व्यावसायिक संरचना के रूप में पता चलेगा क्योंकि ये दो व्यावसायिक संरचनाएं सबसे लोकप्रिय व्यावसायिक संरचना हैं और आपको इनमें से किसी एक की आवश्यकता माने जाते हैं। 

एक निवेशक का पता लगाएँ

भारत में ऑनलाइन गेमिंग कंपनी शुरू करने के लिए आपका एक कदम वित्तीय सहायक का पता लगाना होता है जो आपके प्रोजेक्ट में पैसा लगाने के लिए तैयार है और आपको इसे जमीन पर लाने में मदद करता है। आप किसी बैंक, परिवार के किसी सदस्य या मित्र, निजी निवेशक या यहां तक ​​कि क्राउडसोर्सिंग प्लेटफॉर्म से वित्तीय सहायता मांग सकते हैं। 

ऑनलाइन गेमिंग कंपनी का पंजीकरण करना 

आज एक ऑनलाइन गेमिंग कंपनी को एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के रूप में पंजीकृत करना होता हक़ी आपके पास न्यूनतम 2 शेयर धारक और दो निदेशक होने चाहिए (शेयरधारक निदेशक और इसके विपरीत भी हो सकते हैं) यदि आप एक निजी लिमिटेड कंपनी को एक एकल व्यक्ति के रूप में पंजीकृत कर रहे हैं तो आप इसे पंजीकृत कर सकते हैं। एक व्यक्ति कंपनी भी उस मामले में आपको एक व्यक्ति की आवश्यकता होगी जिसमें आपका नामांकित व्यक्ति होता है। 

ऑनलाइन गेमिंग कंपनी का मुख्य उद्देश्य

किसी भी कंपनी का मुख्य उद्देश्य कुछ ऐसा होता है जो इस बात पर निर्भर करता है कि कंपनी क्या कर सकती है, अगर हम एक ऑनलाइन गेमिंग कंपनी में काम कर रहे हैं तो हमारे पास कंपनी का ऑनलाइन गेमिंग का मुख्य उद्देश्य होना चाहिए, यह आपके व्यवसाहय को आगे बढ़ाने में मदद करता है। 

कॉपीराइट पंजीकरण

कॉपीराइट आपके काम के लिए एक सुरक्षा कवच है, यह सुनिश्चित करते हुए कि उन्हें चोरी या दूसरों द्वारा कॉपी नहीं किया जा सकता है। इसके बारे में तो आपने सुना ही होगा हर कंपनी कॉपीराइट पंजीकरण कराती है। एक कॉपीराइट पंजीकरण आपकी अनुमति के बिना आपके विचार का उपयोग करने के लिए किसी और के अधिकारों को प्रतिबंधित करने का काम करता हैं। 

यह महत्वपूर्ण है कि संगीत और आवाज अभिनेताओं और डिजाइनरों सहित खेल के निर्माण में शामिल कोई भी आपकी फर्म को किसी भी और सभी संभावित बौद्धिक संपदा अधिकारों को सौंपने के लिए सहमत हो। इन सब पर कॉपीराइट पंजीकरण होता हैं। 

ऑनलाइन गेमिंग कंपनी का जीएसटी पंजीकरण

जिन कंपनियों को निगमित किया गया है, हमें कंपनी के कंपनी पंजीकरण के जीएसटी पंजीकरण के लिए आवेदन करना होगा। निगमन के समय भी आवेदन किया जा सकता है, लेकिन यह सलाह दी जाती है कि आप पहले कंपनी का बैंक खाता खोलें, कंपनी के बैंक खाते में प्रारंभिक पूंजी डालें और फिर जरूरत के अनुसार अलग से जीएसटी पंजीकरण के लिए आवेदन करें। 

यदि आपका टर्नओवर 20 लाख रुपये की सीमा से कम है, तो आपको आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है, यदि आप जीएसटी नंबर लेना चाहते हैं तो आप जीएसटी लागू कर सकते हैं, इससे आपको भुगतान किए गए जीएसटी पर इनपुट टैक्स क्रेडिट का दावा करने में भी मदद मिलेगी। और मार्केटिंग, विज्ञापन आदि के लिए भुगतान करना या ऐप डेवलपमेंट या सर्वर से संबंधित खर्चों के लिए खर्च का भुगतान करना

वेबसाइट निर्माण कार्य

एक गेम वेबसाइट के साथ आप इस विशाल उद्योग में टैप कर सकते हैं और सामग्री विकसित कर सकते हैं। मल्टीप्लेयर गेम की मेजबानी के लिए एक निजी सर्वर स्थापित करना भी एक विकल्प है।

इसलिए वेबसाइट विकास और डिजिटल मार्केटिंग आपके ऑनलाइन गेमिंग व्यवसाय को महत्वपूर्ण रूप से मदद कर सकते हैं। इसमें कोई संदेह नहीं है कि किसी भी प्रकार के व्यवसाय के लिए एक वेबसाइट होना अब समय की आवश्यकता होता जा रहा है। 

ReadHindiMei: We provides interesting aricles in Hindi on various topics like Entertainment, Festivals, Education, Shayari,Quotes, Science, Technology etc.

Leave a Comment