मारकोनी द्वारा आविष्कृत रेडियो के इतिहास को जानिए | Radio history in hindi

Radio की बात करें तो यह अब उतना कॉम्मन नहीं है जितना यह हुआ करता था और भारत में टीवी के आने से पहले रेडियो की जो इज्जत हुआ करती थी शायद अब उतनी नहीं है | हालाँकि ऐसा नहीं है कि यह गायब हो गया है लेकिन अब रेडियो के नाम पर पुराने तरीके के डिवाइस की जगह फ़ोन के अंदर FM ने ले ली है और साथ ही Size भी कंही अधिक कॉम्पैक्ट हो गया है तो चलिए आज हम radio history की बात करते हुए कुछ रोचक तथ्यों से आपको अवगत करवाते है –

मारकोनी द्वारा आविष्कृत रेडियो के इतिहास को जानिए | Radio history in hindi

Radio history in hindi

रेडियो के आविष्कार की बात करें तो यह करीब 1895 में कुछ इस तरह हुआ जिसे आप निम्न time line के द्वारा आसानी से समझ सकते है –


  • पहली बार 1860 में radio waves के बारे में सोचा गया और अंदाजा लगाया गया कि इस तरह की वेव्स होती है जिनका इस्तेमाल संचार के लिए किया जा सकता है |
  • सन 1866 में साल में कुछ प्रयोगों के जरिये यह समझा गया कि इलेक्ट्रिक करंट के वेरिअशन को स्पेस में उसी तरह से छोड़ा जा सकता है जिस तरह लाइट और हीट को |
  • सन 1885 में पहली बार एक रेडियो सिग्नल इटली भेजा गया |
  • 1899 में रेडियो सिग्नल को इंग्लिश चैनल के पार भेजा गया |
  • 1902 में “S “ लैटर को इंग्लैंड से न्यूफाउंडलैंड तक टेलीग्राफ किया गया |

तो इस तरह रेडियो की शुरुआत हुई और Guglielmo Marconi को इसका inventor माना जाता है जो एक इटालियन था और 1895 को इसका आविष्कार हुआ माना जाता है लेकिन आधुनिक रूप लेने में इसे बहुत समय लग गया | शुरुआत में जब radio अपनी आरम्भिक अवस्था में था तक इसे अमेरिकी सेना ने 1917 में पहले world war के समय रेडियो से जुड़े सभी तरह की तकनीक और पेटेंट को रिस्ट्रिक्टेड कर दिया था ताकि कोई और इसका इस्तेमाल नहीं कर सके और उस समय केवल अमेरिकी सेना ही इसका इस्तेमाल युद्ध के दौरान किया करती थी | 1919 में जब सरकार ने पेटेंट और तकनीक पर से अपना कण्ट्रोल हटा दिया तब Radio Corporation of America (RCA) की स्थापना हुई जिसने radio की तकनीक को डिस्ट्रीब्यूट करने का काम किया जिसके बाद तेजी से रेडियो तकनीक में विकास होता चला गया |


1947 में बेल नाम की संस्था के शोधकर्ताओं में transistor की खोज की जिसके बाद सोनी ने 1954 में एक कॉम्पैक्ट साइज़ का transistor radio मार्किट में उतार दिया | इसके साथ रेडियो की दुनिया में विकास शुरू हो गया लेकिन भारत में यह थोड़ी देरी से हुआ | भारत में यह 1927 के समय से शुरू हुआ और उस समय 23 जुलाई, 1927 को बम्बई केंद्र की स्थापना हुई और उसी साल 26 अगस्त को कलकता केंद्र की स्थापना हुई | “ऑल इंडिया रेडियो” की स्थापना 1 जनवरी 1936 को हुई और इसका शुरुआत में नाम दिल्ली रेडियो रखा गया था लेकिन जून के महीने में नाम बदल दिया गया था | 3 October 1957 को विविध भारती की शुरुआत हुई और FM की बात करें तो 23 July 1977 को यह चेन्नई से शुरू हुआ और बाद में पूरे देश में इसका विस्तार किया गया |


तो ये है Radio history in hindi और अधिक जानकारी के लिए आप हमे ईमेल कर सकते है और अगर आप hindi history updates चाहते है तो फेसबुक पर हमे follow कर सकते है या ईमेल सब्सक्रिप्शन ले सकते है |

*

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने